breaking post New

महर्षि विद्या मंदिर विकास के नित नए सोपान गढ़ रहा है..

बिलासपुर/-

महर्षि विद्या मंदिर समूह की एक बड़ी श्रृंखला देश-विदेश में कार्यरत है।इसकी स्थापना परम् पूज्य  महर्षि महेश योगी जी ने की थी जिसका उद्देश्य चेतना पर आधारित शिक्षा से विद्यार्थियों की नई पीढ़ियों को परिचित कराना था।यह शिक्षा संस्थान अपनी स्थापना के उद्देश्यों में पूर्णतः सफल है।
        
महर्षि विद्या मंदिर मंगला बिलासपुर में स्थित है जहां जिले भर से विद्यार्थी आकर अध्ययन रत होते हैं।यह विद्यालय अपने विशाल प्रांगण में दो भव्य इमारतों के साथ संचालित है।
          
यह विद्यालय सन 1992 से अनवरत  शहर को अपनी सेवाएं दे रहा है।महर्षि वैदिक विज्ञान, भावातीत ध्यान,ध्यान सिद्धि तथा योग इस संस्थान की विशेषताएं हैं जिनका यहां नियमित अभ्यास कराया जाता है।इससे विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास होता है।
        
विद्यार्थियों के संपूर्ण तथा प्राकृतिक विकास हेतु व्यावसायिक तथा पुस्तकीय ज्ञान न देकर प्राकृतिक नियमों के परिप्रेक्ष्य में व्यक्तित्व का विकास किया जाता है।इससे विद्यार्थी तनाव रहित जीवन के साथ अपनी आकांक्षाओं को पूरा करते हैं।
           
यहां वर्ष भर सांस्कृतिक गतिविधियां तथा खेल गतिविधियां होती हैं।अनुभवी शिक्षकों के सानिध्य में सीबीएसई बोर्ड में यहां के विद्यार्थी शत-प्रतिशत फल प्राप्त करते हैं ।विद्यार्थियों के आवागमन हेतु यहां  बस सुविधाएं उपलब्ध हैं।प्राचार्या श्रीमती रीना सिंह जी के नेतृत्व में यह संस्थान निरंतर विकास के नए सोपान तय कर रहा है।

Comments